सोफे पर बैठते ही हुआ अजीबो-गरीब एहसास, कवर हटाते ही दिखा कुछ ऐसा कि उड़ गए होश - Latest Hindi Khabar

Breaking

Post Top Ad

शनिवार, 9 फ़रवरी 2019

सोफे पर बैठते ही हुआ अजीबो-गरीब एहसास, कवर हटाते ही दिखा कुछ ऐसा कि उड़ गए होश

students get 29 lakhes inside sofa

अगर आपको दूसरे शहरों में जाकर पढ़ाई करनी हो तो आप ऐसे घर की तलाश करते हैं, जो काफी किफायती हो और आपको ज्यादा खर्चा भी ना करना पड़े। छात्रों को अपने घर से दूर रहकर काफी कुछ इंतजाम करने पड़ते हैं। लेकिन हाल ही में कुछ छात्रों के साथ ऐसी घटना घटित हुई कि सब हैरान रह गए। अमेरिका के पाल्ट्ज से एक ऐसा अजीबोगरीब मामला सामने आया कि हर कोई हैरान रह गया।


दरअसल, अमेरिका की यूनिवर्स स्टेट यूनिवर्सिटी में पढ़ रहे तीन छात्रों ने रहने के लिए उन्होंने पाल्ट्ज में रेंट पर मकान ले लिया। इसके बाद उन्होंने अपनी जरूरत के बाकी सामान जुटाने शुरू कर दिए। सामान का इंतजाम करते हुए इन छात्रों ने एक सेकंड हैंड सोफा भी खरीदा। इन छात्रों को सोफा 1300 रुपए में मिल गया। लेकिन उन्होंने कभी नहीं सोचा होगा कि ये सोफा उनकी जीवन को बदलकर रख देगा।

students get 29 lakhes inside sofa

एक दिन ये तीनों दोस्त सोफे पर बैठकर टीवी देख रहे थे। उसी दौरान उनको कुछ अजीब लगा और उन्होंने सोफे के कवर को हटाया तो उन्हें ऐसी चीज दिखाई दी कि उनके होश उड़ गए। छात्रों को सोफे के अंदर एक पैकेट मिला, जो बहुत ही पुराना था। लेकिन जब इन छात्रों ने उस पैकेट को खोला तो उन्हें एक हजार डॉलर लगभग 70 हजार रुपये मिले। इसके बाद उन छात्रों ने पूरा सोफा खोलकर देखा तो उन्हें लगभग कुल मिलाकर 41 हजार डॉलर मिले यानी कि लगभग 29 लाख रुपए।



इन छात्रों को रुपयों के अलावा बैंक की डिपाजिट स्लिप भी मिली। इसके बाद इन छात्रों ने मिले हुए पैसों को असली मालिक तक पहुंचाने की ठान ली। फिर वे बैंक की डिपाजिट स्लिप की मदद से उस व्यक्ति के यहां पहुंचे, जिसका पता सिलिप पर था। तभी उन छात्रों को एक बूढ़ी मां मिली, जिन्होंने उन लोगों को बताया कि ये पैसे उनके पति ने बैंक में जमा करवाने के लिए रखे थे।

students get 29 lakhes inside sofa

महिला ने बताया कि ये पैसे उनके पति को रिटायर होने के बाद मिले थे। लेकिन उनके बच्चों ने उन्हें बिना बताए ही यह सोफा बेच दिया था। लेकिन जब बच्चों ने बूढ़ी मां को पैसे लौटाए तो वे काफी खुश हो गईं। इन छात्रों को बूढ़ी दादी ने उनकी ईमानदारी के इनाम के रूप में एक हजार डॉलर दिए। छात्रों की ईमानदारी के लिए उनकी सोशल मीडिया पर खूब तारीफ हो रही है और ये लोग समाज के लिए एक प्रेरणा स्रोत हैं।
loading...

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें