IND vs NZ : भारतीय टीम के कप्तान रोहित शर्मा ने बताया पहले टी-20 में मिली हार का कारण - Latest Hindi Khabar

Breaking

Post Top Ad

बुधवार, 6 फ़रवरी 2019

IND vs NZ : भारतीय टीम के कप्तान रोहित शर्मा ने बताया पहले टी-20 में मिली हार का कारण

ind vs nz

IND vs NZ : भारत और न्यूजीलैंड के बीच आज 3 टी-20 मैचों की सीरीज का पहला मुकाबला खेला गया। न्यूजीलैंड की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए शानदार बल्लेबाजी की। न्यूजीलैंड ने भारतीय टीम को 220 रनों का लक्ष्य दिया। लेकिन भारतीय टीम 139 रन बनाकर ही ढ़ेर हो गई। भारतीय टीम पूरे 20 ओवर भी नहीं खेल पाई। भारतीय टीम के सभी बल्लेबाज 19.2 ओवरों में आउट हो गए।

ind vs nz

मैच खत्म होने के बाद भारतीय टीम के कप्तान रोहित शर्मा ने इंटरव्यू दिया जिसमें उन्होंने बताया कि न्यूजीलैंड की टीम की बोलिंग, बैटिंग और फील्डिंग तीनों क्षेत्रों में हमसे आगे रही। रोहित ने अपने बयान में कहा कि हमारी टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। जब न्यूजीलैंड की टीम ने 200 रनों से अधिक बना ड़ाले तो हमें पता चल गया कि मैदान छोटा होने के बावजूद भी हम इस लक्ष्य को आसानी से हासिल नहीं कर पाएंगे।

रोहित शर्मा ने आगे कहा कि लक्ष्य का पीछा करते हुए हमारे विकेट लगातार गिर रहे थे। इससे पहले हमने कई बड़े स्कोर हासिल किए हैं। इसीलिए आज के मैच में हम 8 बल्लेबाजों के साथ मैदान पर उतरे। लेकिन खराब बदकिस्मती से कोई भी बल्लेबाज बड़ी साझेदारी नहीं निभा सका। न्यूजीलैंड की टीम बड़ी साझेदारी के दम पर ही इतना बड़ा स्कोर बनाने में कामयाब हुई।

ind vs nz

न्यूजीलैंड की टीम पहला टी-20 मैच जीतने के बाद जोश और उत्साह से भरपूर है। न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने अपने टीम के खिलाड़ियों की तारीफ की। अपने बयान में केन विलियमसन ने कहा कि ये संपूर्ण प्रदर्शन रहा। केन विलियमसन ने कहा कि हमारा काम अभी खत्म नहीं हुआ है। आने वाले मैचों में भी हम शानदार प्रदर्शन करेंगे।

शानदार प्रदर्शन के कारण मैन ऑफ द मैच चुने गए टिम सीफर्ट ने अपने बयान में कहा कि सीरिज का आगाज मेरे लिए बहुत ही शानदार रहा। पहले टी-20 में मिली जीत से हम बहुत खुश हैं। शुरुआती ओवरों में हमने गेंदबाजों को परखा और बाद में उन पर दबाव बनाना शुरू कर दिया। मैं इस बात से बहुत ही खुश हूं कि जिस कारण मुझे टीम में चुना गया था वह कर पाने में सफल हुआ।
loading...

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें